Phone: +91-9811-241-772

Poems

 सिखाता है पानी किस तरह अपनी जगह बनानी

 

सिखाता है पानी

किस तरह अपनी जगह बनानी

बहते चले जाओ

जैसे हो निर्झर झरना

जहाँ मिले जगह 

थमना