Phone: +91-9811-241-772

Poems

 गलत फैमियाँ होना जायज़ हैं

 

गलत फैमियाँ होना जायज़ हैं
क्युकि हम रिश्तों को निभतें हैं
वक़्त यूँ ही नहीं किसी पर लुटाते हैं