Phone: +91-9811-241-772

Poems

 ए खुदा बता रस्तो को मंज़िलों से मिला

 

ए खुदा बता

रस्तो को मंज़िलों से मिला ,

तेरे दीदार को निकला हूँ मैं

छोड़ कर ये जहाँ,

भटक रहा हूँ चारो ओर

पर ये कदम ना रुकेंगे क्युकि

बँधी है प्रीत की डोर ,

भक्ति की तेरी चडी है ऐसी तड़प

कि मजबूर कर दूँगा तुझे

दर्शाने को तेरी छवी की झलक .......