Phone: +91-9811-241-772

Poems

 जो कल था वो आज नही जो आज है वो कल नही

 

जो कल था

वो आज नही

 जो आज है

वो कल नही

 हर पल हम जो चाहें

वो पल नही

 तो एक बार

वो घड़ी छोड़ कर देखो

जिसका कोई हाल नही ,

 अब सोचो किस लिए रोना

जब वक़्त के आगे

चलता किसी का बल नही ..........