Phone: +91-9811-241-772

Poems

 आनंद की खोज कर रहा हर मनुष्य

 

आनंद की खोज

कर रहा हर मनुष्य

भीतर है सब कुछ 

पर फिर भी जानना है भविष्य,

कल जीने के लिए आज जी नही रहा

जैसे कल पक्का ज़िएगा

स्वॅम भगवान ने हो कहा .........