Phone: +91-9811-241-772

Poems

 एक दिन गुस्से में मैं , माँ से यूही कह गया

 

एक दिन गुस्से में मैं , माँ से यूही कह गया

कि तू मुझे समझती नही ,

माँ चुप खड़ी मेरी सारी बात सुनती रही

माँ से जवाब ना मिलने पर

मैने ही पूछा

तुम चुप क्यों हो ?

माँ मुस्कुरा कर बोली

मैं चुप इसलिए हूँ

क्योंकि मैं तुझे समझती हूँ ............