Phone: +91-9811-241-772

Poems

 कविताओं के रास्ते हमनेजीवन खिलाया है

 

कविताओं के रास्ते हमनेजीवन खिलाया है

जो कह नही पाते थेवो लिख कर बताया है ,

इशारा था जिनकी ओरउन्होने पढ़ कर भी नज़र अंदाज़ सा ताल्लुफ जताया है

और जो दिल से हमें चाहते थे अपना मानते थे

उन्होने और भी गहरा होने का एहसास जगाया है .....