Phone: +91-9811-241-772

Poems

 गुरु एक सागर है

 

गुरु एक सागर है

जिसमें डुबकी लगा

व्यवहार जीवन अपना

सीख लें,

मन में बसा

तो संसार के सभी सुख अपने

संतुष्ट रहेंगें सपने,

कदमों को मिलेगी कामयाबी

गुरु की कृपा में छिपी है वो चाबी

 मार्ग दर्शन कराया

 जीवन हुआ सफल 

जबसे ली गुरु की छाया