Phone: +91-9811-241-772

Poems

 हारियाला सावन हरियाली तीज

 

हारियाला सावन

हरियाली तीज

दिलों में बोएँ

खुशियों के बीज

 खिले चेहरों पर लाली

झूमें गोरी के कनों में बाली

व्यंजनों से सजे थाली

मोर नाचे ऐसे

जिसे देख सावन भी बजाए ताली,