Phone: +91-9811-241-772

Poems

 राहों में ज़िंदगी के जिस पल से

 

राहों में ज़िंदगी के

जिस पल से 

तुम्हें हमसफ़र बना लिया

 कदम ये ज़िंदगी में

हमने अच्छा उठा लिया,

 ढूँढते थे जिसे 

किस्मत से उसने भी अपना लिया

जिनसे मतलब के रिश्ते थे

हमने उनसे फासला बना लिया ,

जो फूल खिल रहे थे

उनके साथ खुद को भी महका लिया,

दिल में उनके घर बनाने से

खुशी ने हमारे घर में पनाह लिया,

ए महोब्बत तेरे सजदे में

हमने दिल सिर झुका लिया,