Phone: +91-9811-241-772

Poems

 ज़िंदगी की खूबसूरती पर तभ तक धूल जमी थी

 

ज़िंदगी की खूबसूरती पर तभ तक धूल जमी थी

जब तक उसको देखने के नज़रिए में हमारे कमी थी ............